Hindi English Gujarati Marathi Urdu
नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 7016137778 / +91 9537658850 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , ईस्टर्न इंडिया जोनल आप्थाल्मोलॉजी कांग्रेस के 35 वें अधिवेशन 2022 में नेत्र चिकित्सक डॉ.बी.एन. गुप्ता हुए सम्मानित – Joshi News

Joshi News

Latest Online Breaking News

ईस्टर्न इंडिया जोनल आप्थाल्मोलॉजी कांग्रेस के 35 वें अधिवेशन 2022 में नेत्र चिकित्सक डॉ.बी.एन. गुप्ता हुए सम्मानित

😊 Please Share This News 😊

ईस्टर्न इंडिया जोनल आप्थाल्मोलॉजी कांग्रेस के 35 वें अधिवेशन 2022 में नेत्र चिकित्सक डॉ.बी.एन. गुप्ता हुए सम्मानित

 

भारत के सबसे बड़े नेत्र चिकित्सक संगठन इजेडओसी के अध्यक्ष पद से हुए सुशोभित

 

धनबाद. धनबाद के नेत्र विशेषज्ञ डॉ. बी. एन. गुप्ता को ईस्टर्न इंडिया ज़ोनल आप्थाल्मोलॉजिकल कांग्रेस (इआईजेडओसी) का अध्यक्ष बनाया गया है. बुधवार को नवज्योति नेत्रालय, जोड़ा फाटक रोड, धनबाद में संवाददाता सम्मेलन में उक्त जानकारी देते हुए डॉ. बी. एन. गुप्ता ने बताया कि पिछले दिनों 15 अक्टूबर को पटना में आयोजित इआईजेडओसी के 35वें वार्षिक सम्मेलन इआईजेडओसीओएन- 22 में देश के विभिन्‍न प्रदेश से आए लगभग 300 नेत्र चिकित्स्कों की उपस्थिति में उन्हे सम्मानित किया गया तथा इआईजेडओसी के अध्यक्ष का पदभार सौंपा गया।उन्होंने बताया यह झारखंड और विशेष कर धनबाद कोयलांचल के लिए बहुत ही गौरव का क्षण है क्‍योंकि इसके पहले धनबाद से कोई भी चिकित्सक इस संगठन के अध्यक्ष नही निर्वाचित हुए हैं।उल्लेखनीय है इआईजेडओसी पूर्वी भारत के 14 राज्यों जिनमे 5 बड़े राज्य (असम, बिहार, झारखंड, ओड़ीशा एवं प. बंगाल), 7 पूर्वोत्तर राज्य (अरुणायल्र प्रदेश, मणिपुर, नागालैंड, मेघालय, सिक्किम, त्रिपुरा, मिज़ोरम) एवं अंडमान निकोबार के नेत्र चिकित्सकों का एक संगठन है जिसके द्वारा पूर्वी भारत में नेत्र चिकित्सा के क्षेत्र में विकास एवं नयी तकनीक को प्रोत्साहन हेतु समय – समय पर गोष्ठी का आयोजन होता है ताकि इस क्षेत्र में रहने वाले लोगों के बीच नेत्र रोगों की जागरूकता एवं चिकित्सा हेतु अनवरत कार्य का लाभ आम लोगों को मिल सके। डॉ. बी. एन. गुप्ता ने आने वाले एक वर्ष में अपने कार्यकाल का विवरण देते हुए अपने संभावित कार्यक्रम से अवगत कराया। नेत्र चिकित्सा के क्षेत्र में पूर्वी भारत में उपलब्ध सुविधाओं का उल्लेख करते हुए उन्होंने बताया कि यद्यपि पहले की अपेक्षा अब पूर्वी भारत मे भी आधुनिक सुविधाओं एवं तकनीकों मे काफी वृद्धि हुई है फिर भी यह अपर्याप्त है और इस क्षेत्र में और अधिक विकास की आवश्यकता है.कोरोना महामारी के दौरान कम्प्युटर एवं मोबाइल फोन का अत्यधिक उपयोग ख़ास कर बच्चों मे ऑनलाइन क्लासेस तथा लगातार संगोष्ठी के कारण इसका दुष्प्रभाव आँखों पर देखने को मिल रहा है। साथ ही प्रदूषण खास कर धनबाद कोयलांचल क्षेत्र में इसके व्यापक दुष्प्रभाव के फलस्वरूप आँखों की बीमारियों में वृद्धि हुई है। इस हेतु अपने कार्यकाल में समय-समय पर आम लोगों में जागरुकता अभियान एवं नेत्र परीक्षण शिविर खास कर स्कूली बच्चों की जांच के लिए होगा.पूर्वी भारत में नेत्र चिकित्सा में विकास हेतु प्रतिबद्ध डॉ. गुप्ता का एक महत्वपूर्ण उद्देश्य कोयलांचल के लोगों तक नेत्र चिकित्सा क्षेत्र में संभावित कार्यक्रम एवं सुविधाओं की जानकारी पहुंचाना है जिससे आम लोग लाभवन्तित हो सकें.

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!