Hindi English Gujarati Marathi Urdu
नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 7016137778 / +91 9537658850 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , आज से झामुमो हर्ल गेट पर करेगा चरणबद्ध आंदोलन सिन्दरी । प्रधानमंत्री की ड्रीम प्रोजेक्ट हर्ल सिन्दरी परियोजना – Joshi News

Joshi News

Latest Online Breaking News

आज से झामुमो हर्ल गेट पर करेगा चरणबद्ध आंदोलन सिन्दरी । प्रधानमंत्री की ड्रीम प्रोजेक्ट हर्ल सिन्दरी परियोजना

Featured Video Play Icon
😊 Please Share This News 😊

,आज से झामुमो हर्ल गेट पर करेगा चरणबद्ध आंदोलन

सिन्दरी । प्रधानमंत्री की ड्रीम प्रोजेक्ट हर्ल सिन्दरी परियोजना अपने अंतिम चरण में है और आशा है कि अगले दस दिनों में यूरिया का ट्रायल उत्पादन शुरू हो जाएगा। इसी क्रम में हर्ल सिन्दरी में स्थानीय नियोजन सहित छः सूत्री मांगों को लेकर झामुमो ने भी तैयारी शुरू कर दी है। सोमवार से झामुमो हर्ल मुख्य द्वार पर चरणबद्ध आंदोलन की तैयारी में जुट गया है। इसकी जानकारी झामुमो नेता रामू मंडल ने दी।
उन्होंने बताया कि झामुमो जिलाध्यक्ष रमेश टुडू के दिशानिर्देश पर विगत 22 सितंबर व 03 अक्टूबर को हर्ल सिन्दरी प्रबंधन को छः सूत्री मांगों को लेकर माँगपत्र सौंपा गया था। इसमें झारखंड सरकार द्वारा निर्धारित 75 प्रतिशत स्थानीय लोगों का हर्ल उत्पादन कार्य में संविदा व स्थायी नियोजन की मुख्य माँग दी गई थी। प्रबंधन से कार्यरत स्थानीय व बाहरी श्रमिकों की सूची 9 अक्टूबर 2022 के शाम तक झामुमो सिन्दरी नगर समिति को देने का आग्रह किया गया था और प्रबंधन ने इसे स्वीकार किया था।लेकिन प्रबंधन के ढुलमुल रवैया अपनाने के कारण झामुमो सोमवार से चरणबद्ध आंदोलन करेगी। इसकी शुरुआत हर्ल गेट पर एकदिवसीय धरना से होगी। इसके अन्य माँगों में श्रमिकों को सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम मजदूरी, पूर्व में कार्यरत स्थानीय श्रमिकों को नियमित करने, यूरिया ट्रांसपोर्टिंग का कार्य स्थानीय आदिवासी व मूलवासी को देने व ड्रिपलेक्स कंपनी में विगत 18 जुलाई को घटी घटना में घायल राकेश मंडल को उच्चस्तरीय इलाज व मजदूरी के साथ स्वस्थ होने पर हर्ल में नियोजन शामिल है। इसके लिए झामुमो स्थानीय समिति ने बैठक कर निर्णय लिया।
हर्ल सिन्दरी परियोजना प्रभारी दिप्तेन राय ने बताया कि झामुमो को उनके माँगपत्र का जवाब दो दिनों पूर्व दे दिया गया है। फिलहाल हर्ल में कार्यरत ठेकेदार व श्रमिकों की सूची में 90 प्रतिशत झारखंड के स्थानीय निवासी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि हर्ल के जल विभाग में कार्यरत 36 श्रमिक सिन्दरी के स्थानीय निवासी हैं।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!