Hindi English Gujarati Marathi Urdu
नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 7016137778 / +91 9537658850 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , सिन्दरी में फल-फूल रहा है प्रतिबंधित लॉटरी का कारोबार प्रशासन मौन: – Joshi News

Joshi News

Latest Online Breaking News

सिन्दरी में फल-फूल रहा है प्रतिबंधित लॉटरी का कारोबार प्रशासन मौन:

😊 Please Share This News 😊

सिन्दरी में फल-फूल रहा है प्रतिबंधित लॉटरी का कारोबार प्रशासन मौन:

सिन्दरी :चौक चौराहों, गल्ली मुहल्ले में बिक रहे टिकट, पुलिस नहीं करती कार्रवाई ।झारखंड में लॉटरी प्रतिबंधित है. बावजूद धनबाद जिले में नगालैंड, सिक्किम, पश्चिम बंगाल की लॉटरियों के टिकट खुलेआम बेचे जा रहे हैं वह डुप्लीकेट छपाई के जरिए ।. सिन्दरी में यह कारोबार कुछ ज्यादा ही फल फूल रहा है. यहां चौक-चौराहों, चाय, पान दुकानों में भी एवं मोटर साईकिल पर घूम घूमकर अवैध लॉटरी के टिकट आसानी से बैच रहे हैं.। मजदूर, ठेला, रिक्शा, ऑटो चालक हो रहे कंगाल

लॉटरी के टिकट की कीमत 50, 100 और 200 रुपये तय है. दिहाड़ी मजदूर, ठेला, रिक्शा, ऑटो चालक मोटी रकम मिलने के लालच में लॉटरी का टिकट खरीदते हैं और अपनी रोज की कमाई गंवा देते हैं. । झारखंड में पूर्ण प्रतिबंध के बावजूद बड़े पैमाने पर लॉटरी के कारोबार पर जिला प्रशासन, मुख्यमंत्री सभी को संज्ञान लेना चाहिए. गरीबों को लूटनेवाले इस धंधे पर रोक लगनी चाहिए. . परंतु जेल से छूट कर फिर वे उसी धंधे में लग जाते हैं. फिर भी सूचना मिलने पर धरपकड़ की जाएगी.

.आज सिन्दरी में धड़ल्ले से अवैध लॉटरी बेच रहे हैं सिंदरी थाना के नाक के पास धड़ल्ले से बेंच रहे हैं प्रशासन मौन है। बलियापुर चौक पान की दुकान में, चेक पोस्ट रोडाबाध, रोडाबाध डाकघर के बगल में ,शहरपुरा मुख्य बाजार खादी भंडार के सामने , भुनजा मोड सहरपुरा, मिलन मोड़ सहरपुरा, सहरपुरा हटिया, रंगा माटी पानी टंकी,आदि स्थानो पर धड़ल्ले से अवैध लॉटरी मुख्य स्थानों पर बिक रही है। अवैध लॉटरी टिकट की बिक्री एवं छपाई गलत माना जाता है ।प्रशासन के नजर भोले गरीब ठेला मजदूरों को लूटने वाले को इन धंधों बाज पर नजर नहीं है ।होलसेल विक्रेता अपने-अपने क्षेत्र में अवैध लॉटरी टिकट बैचते हैं प्रशासन मौन रहती है उनका कहना है कि मेरी पहुंच प्रशासन तक है मेरा कुछ भी नहीं हो पायेगा ।आज लोभ के कारण कि उन्हें बडी रकम के साथ मिल जायेगा । अवैध लॉटरी टिकट खरीदते हैं लेकिन उन्हें होता क्या है बच्चे भूखे मरते हैं, पढ़ाई बाधित होती है, पत्नी पर अत्याचार होता है, उसके जिम्मेदार कौन है? दुर्गा पूजा – दीपावली पर्व में करोड़ों रुपया की लॉटरी बिकती है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!