Hindi English Gujarati Marathi Urdu
नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 7016137778 / +91 9537658850 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , प्रतिबंध के बावजूद सिन्दरी के बाजारों में बेखौफ हो – Joshi News

Joshi News

Latest Online Breaking News

प्रतिबंध के बावजूद सिन्दरी के बाजारों में बेखौफ हो

😊 Please Share This News 😊

प्रतिबंध के बावजूद सिन्दरी के बाजारों में बेखौफ हो रहा प्रतिबंधित प्लास्टिक का उपयोग : सिन्दरी शहर के मुख्य बाजारों मे पॉलीथिन और प्लास्टिक पर प्रतिबंध को कोई असर नहीं दिख रहा है। धड़ल्ले स प्रतिबंध पॉलीथिन और प्लास्टिक का उपयोग किया जा रहा है। सिन्दरी चैंबर ऑफ़ कामरस सचिव दीपक कुमार दीपु सोशल मीडिया के द्वारा सभी व्यवसायी को प्रतिबंध पॉलीथिन और प्लास्टिक का उपयोग न करें । जबकि वन,पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय भारत सरकार की गाइडलाइन के अनुसार एक जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक का उत्पादन, भंडारण, वितरण और प्रयोग पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है। झारखंड सरकार ने भी इसे मजबूती से लागू करने का निर्देश दिया है। नियम नही मानने वालों पर कठोरतम करवाई की बात कही गई है इसके जिम्मेदार अधिकारी कार्रवाई की जगह मौन बैठ हैं।

सिन्दरी के बाजारों में खुलेआम प्रतिबंध पॉलीथिन और प्लास्टिक उपयोग हो रहा है। सिन्दरी सब्जी मंडी मे सब्जी विक्रेता , मछली विक्रेता ,फल विक्रेता हो या राशन दुकानदार या ही कपड़ा पट्टी के व्यसाय वर्ग हर कोई खुलेआम अपने ग्राहकों को प्रतिबंधित पॉलीथिन बेग में समान दे रहे है। छोटे बड़े दुकानदारों से लेकर चाय की दुकानों, होटलों में पॉलीथन का प्रयोग हो रहा है।

 

व्यपारियों ने बताया कि रोजना कई लोग आते है। अधिकांश लोगों थैल लेकर नहीं आते है। इस कारण उन्होंने प्लास्टिक वाली थैली देना पडता है। नहीं देगें तो हमारे सामानों की ब्रिकी भी नहीं होगी। जुट वाली थैली रखने में बहुत ज्यादा पैसा खर्च आता है। दिन भर में जितनी कमाई होनी वे इसी थैले कि पीछे अधिकांश खर्च हो जाता है। पिछली बार जब इन प्लास्टिक की थैली पर प्रतिबंध लगा था तब धनबाद नगर निगम हरकत में जरूर आई थी।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!