Hindi English Gujarati Marathi Urdu
नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91 7016137778 / +91 9537658850 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें , सिंदरी की पानी, बिजली की कुव्यवस्था का जिम्मेवार हर्ल प्रबंधन है। पानी बिजली की गंभीर समस्या के लिए साफ है कि हर्ल के सिंदरी इकाई का प्रबंधन निकम्मा – Joshi News

Joshi News

Latest Online Breaking News

सिंदरी की पानी, बिजली की कुव्यवस्था का जिम्मेवार हर्ल प्रबंधन है। पानी बिजली की गंभीर समस्या के लिए साफ है कि हर्ल के सिंदरी इकाई का प्रबंधन निकम्मा

😊 Please Share This News 😊

*सिंदरी की पानी, बिजली की कुव्यवस्था का जिम्मेवार हर्ल प्रबंधन है।*

 

पानी बिजली की गंभीर समस्या के लिए साफ है कि हर्ल के सिंदरी इकाई का प्रबंधन निकम्मा संवेदनहीन प्रबंधन साबित हो गया है। एफसीआई बंद होने के बाद संसाधनों से बहुत कमजोर माने जाने वाले एफसीआई प्रबंधन लगातार 20 वर्षों तक सिंदरी के निवासियों को पानी उपलब्ध कराते रहें हैं, आज पानी और बिजली का किल्लत के कारण जो परेशानी सिंदरी में है, इसका जिम्मेवार मौजूदा प्रबंधन है। इस तरह का दिक्कत पहले कभी नहीं हुआ। हर्ल प्रबंधन के पास संसाधनों की कोई कमी नहीं है।उसके बाद भी सिंदरी टाउन शिप में पानी बिजली का जो हाल मौजूदा प्रबंधन ने बना कर रखा है 4 दिन 5 दिन इस गर्मी में बिना पानी बिजली कितना कष्टदायक है इनको शर्म आनी चाहिए। हर्ल प्रबंधन को शायद पता नहीं है कि सिंदरी वासी पानी बिजली के सवाल पर धनबाद जिले की धरती पर एक ऐतिहासिक और सफल आंदोलन कर और पूरे जिला प्रशासन को झुका कर अपनी बातें मनवा चुके हैं। हर्ल प्रबंधन को सिंदरी के जनता के प्रति कोई संवेदना नहीं है। सिंदरी में रहने वालों के कष्टों से इन्हें कोई मतलब नहीं है क्योंकि ये लोग अपने आप को सिंदरी के लोगों से अलग मानते हैं , सुपर मानते हैं, क्योंकि इनकी अपनी पानी बिजली की व्यवस्था तो बिना बाधा की चल रही है। अगर आप सिंदरी टाउनशिप में पानी बिजली सुचारू रूप से देने में असमर्थ है तो कान पकड़कर सिंदरी की जनता से माफी मांग ले कि हम आपको पानी सुचारू रूप से नहीं दे सकते! पानी की व्यवस्था की जिम्मेदारी हम फिर से पुराने एफसीआई प्रबंधन के हाथों में देते हैं। हर्ल प्रबंधन के अधिकारियों के पास केवल लूट खसोट का बहुत ही अच्छा अनुभव है । अब तो इनकी कार्यक्षमता पर ही संदेह खड़ा होता है पता नहीं नया बन रहा हर्ल कारखाना को यह प्रबंधन कितने दिनों तक सुचारू रूप से चला पाएगा ?

हर्ल प्रबंधन को चेतावनी दी जाती है कि सिंदरी की जनता का धैर्य की परीक्षा ना लें, और जल्द से जल्द पानी बिजली की समस्या को दूर करें सिंदरी के शांति प्रिय जनता को सड़क पर उतरने के लिए मजबूर ना करें।

 

गौतम प्रसाद, सीपीआई(एम)

शाखा सचिव, सिंदरी

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!